सरकार गठन की कवायद तेज, कल पटना आएंगे राजनाथ सिंह

पटना : बिहार में भाजपा विधायक दल के नेता का चुनाव कराने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रविवार को पटना आएंगे। बैठक पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में 10 बजे बुलाई गई है। बैठक में राजनाथ के अलावा बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फड़नवीस और प्रभारी भूपेंद्र यादव भी मौजूद रहेंगे। इस बीच, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी को दिल्ली बुलाया है, जहां पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ सरकार बनाने और मंत्रिमंडल के गठन को लेकर निर्णय लिया जाएगा।



अमित शाह ने आंदोलन कर रहे किसानों को कहा, सरकार आपकी हर मांग पर विचार करने को तैयार

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को किसानों से आंदोलन खत्‍म करने की अपील की। शाह ने कहा कि पंजाब की सीमा से लेकर दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर रोड पर अलग-अलग किसान यूनियन की अपील पर आज जो किसान भाई अपना आंदोलन कर रहे हैं, मैं उन सभी से अपील करना चाहता हूं कि भारत सरकार आपसे चर्चा के लिए तैयार है। शाह ने बताया कि आगामी तीन दिसंबर को किसानों से चर्चा के लिए कृषि मंत्री की ओर से निमंत्रण पत्र भेजा गया है। भारत सरकार आपकी हर समस्या और हर मांग पर विचार करने के लिए तैयार है।  



ट्रांसफार्मर बदलने के लिए SDO ने मांगी रिश्वत, ग्रामीणों ने बिजली विभाग का किया घेराव

लातेहार जिला के सदर प्रखंड अंतर्गत कोढ़ास गांव के ग्रामीणों ने शुक्रवार की शाम बिजली विभाग का घेराव किया। गांव में जले ट्रांसफार्मर को बदलने के लिए विभागीय एसडीओ के द्वारा 15 हजार रुपये रिश्वत मांगने का आरोप में विभागीय कार्यालय में युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष आफताब आलम के नेतृत्व में रोषपूर्ण प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने एक स्वर में कहा कि गांव में ट्रांसफार्मर जल जाने के कारण गांव में अंधेरा पसरा है। गांव में शाम व रात के समय अंधेरा रहने के कारण बच्चों को पढ़ाई में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने कहा कि ट्रांसफार्मर बदलवाने के लिए मांग करने पर एसडीओ राजदेव मेहता के द्वारा 15 हजार रुपये रिश्वत की मांग की जाती है।



राजनाथ ने कहा : देश के स्वाभिमान और सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं करेगा भारत

चीन के साथ लगभग एक दर्जन वार्ता के बाद भारत-चीन रिश्तों में सार्वजनिक तल्खी तो थोड़ी घटी है, लेकिन शायद लद्दाख में जमी बर्फ पिघलनी शुरू नहीं हुई है। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक बार फिर से दोहराया है कि भारत किसी भी सूरत में युद्ध नहीं चाहता है लेकिन देश के स्वाभिमान और सुरक्षा को लेकर कोई समझौता भी नहीं करेगा। उन्होंने साफ साफ कहा- भारत हमेशा से शांति के मार्ग पर चलता आया है और 'एक सीमा तक' आगे भी चलता रहेगा। केंद्रीय रक्षा मंत्री का यह बयान खासा अहम है क्योंकि कुछ दिनों पहले यह खबरें आई थीं कि दोनों ओर से सेना की चरणबद्ध वापसी पर सहमति बन गई है। लेकिन उसके बाद से चुप्पी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक कार्यक्रम में देश की सुरक्षा व्यवस्था पर बोलते हुए कहा - 'उत्तरी सीमा सुरक्षा के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण है और चीन के साथ भारत के वैचारिक मतभेद हैं। इस मुद्दे को बातचीत से सुलझाने का प्रयास जारी है। हम किसी सूरत में यानी वाकई किसी भी सूरत में युद्ध नहीं चाहते हैं, लेकिन देश के स्वाभिमान, सम्मान के साथ किसी भी सूरत में समझौता भी नहीं होगा।' भारत की ओर से पहले भी यह संदेश दिया जाता रहा है किभारत किसी भी स्थिति के लिए तैयार है। 'एक सीमा' की बात कहकर राजनाथ ने और स्पष्ट कर दिया कि भारत के जवान विचलित नहीं होते हैं लेकिन उकसावे से हर किसी को बचना चाहिए।

 



केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला, सिर्फ ट्यूशन फीस ही ले पाएंगे निजी स्कूल

दिल्ली के निजी स्कूल कोविड-19 की अवधि के दौरान केवल ट्यूशन फीस ही लेंगे। लॉकडाउन और किसी अन्य मद के तहत चार्ज नहीं लेंगे। इसके साथ हीं वे लॉकडाउन की समाप्ति के बाद मासिक आधार पर वार्षिक और विकास शुल्क आनुपातिक रूप से वसूल सकेंगे। यह निर्देश दिल्ली के शिक्षा विभाग ने सोमवार को ऑर्डर जारी कर दिया। शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने इस फैसले को प्राइवेट स्कूलों के छात्रों-अभिभावकों के हित में अरविंद केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला बताया है।



BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली कल करेंगे IPL को लेकर बड़ा ऐलान, स्थगित होगी लीग

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी BCCI के अध्यक्ष सौरव गांगुली कल यानी सोमवार 13 अप्रैल को IPL को लेकर बड़ा ऐलान करेंगे। सौरव गांगुली को इसलिए भी आइपीएल के 13वें सीजन को लेकर मीडिया के सामने आना होगा, क्योंकि आइपीएल 2020 को पहले 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित किया गया था, लेकिन अब इसको और स्थगित किया जाएगा, जिसके बारे में बताने का ऐलान वे सोमवार को कर सकते हैं।

दरअसल, भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली ने न्यू इंडियन एक्स्प्रेस को दिए इंटरव्यू में कहा है कि वे सोमवार को आइपीएल 2020 पर कोई अपडेट दे सकते हैं। क्या जल्द हीं आइपीएल को आगे बढ़ाने को लेकर ऐलान किया जा सकता है? इस सवाल के जवाब में सौरव गांगुली ने कहा, "मैं सोमवार को बीसीसीआइ के बाकी अधिकारियों से बात करने के बाद हीं कोई अपडेट आइपीएल को लेकर दे पाऊंगा।

(सभार/सौजन्य से)



अनलॉक 4 में भी बंद रहेंगे सिनेमाघर, खोलने की हो रही है गुहार

साल 2020 सिनेमा प्रेमियों के लिए उतना सही साबित नहीं हुआ है। मार्च से सिनेमाघर बंद चल रहे हैं। लॉकडाउन के बाद अब अनलॉक-4 की प्रक्रिया शुरू हो गई है। लेकिन सिनेमाघर अभी भी नहीं खुलने वाले हैं। इस बीच कई फ़िल्ममेकर्स और मल्टीप्लेक्स एसोसिएशन ने सरकार से इस बात की गुहार लगाई है कि सिनेमाघरों को भी खोले जाए।  एसोसिएशन का कहना है कि वह लोगों के लिए सुरक्षित और साफ महौल उपलब्ध कराएंगे। 



हसनपुर में लोक जनशक्ति पार्टी की 20वाँ स्थापना दिवस मनाया गया

ब्रह्मेन्द्र कुमार सिंह की रिपोर्ट :-  

हसनपुर (समस्तीपुर) : हसनपुर में लोक जनशक्ति पार्टी की 20वाँ स्थापना दिवस मनाया गया। जिसमें लोजपा कार्यकर्ताओं ने काफी बढ-चढ कर हिस्सा लिया। उक्त मौके पर पार्टी के विचारधारा के साथ हीं संगठन को मजबूत करने पर भी बल दिया गया तथा सदस्यता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। मौके पर प्रखंड अध्यक्ष गौरी शंकर यादव, हरेकृष्ण पासवान, श्रीकान्त कुशवाहा, अमरेश कुमार यादव, मनोज कुमार सिंह उर्फ मुरारी जी, प्रमोद चौरसिया, कपिलदेव महतो, जीबछ सहनी, अमिरका साह, गंगेश यादव, राजेश कुमार मालाकार, ओमकार सिंह, जागवल पासवान, राजेश पासवान, मो. मुस्तफा, मो. रसीद, राज किशोर यादव, अजित यादव, लालन यादव, गीता पासवान, गजेन्द्र पासवान, दिनेश पासवान, महेश राय, अंगेश महतो एवं लक्ष्मी महतो सहित दर्जनों लोजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।    

 



कब से दोबारा चालू होंगी लोकल ट्रेनें? जानिए रेलवे बोर्ड के चेयरमेन का जवाब

कोरोना वायरस महामारी के चलते बंद पड़ी लोकल ट्रेनों को शुरू किया जा सकता है, बशर्तें राज्य सरकारें इसके लिए तैयार हों। रेलवे बोर्ड के चेयरमेन वाई.के. यादव ने नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत के साथ गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन करते हुए कहा कि मुंबई की लोकल ट्रेनों के अलावा, जो केवल आवश्यक कर्मचारियों को ढो कर रही हैं, उपनगरीय रेलवे सेवाओं को अनलॉक 4 में भी निलंबित रखा दिया गया है। वाई.के. यादव ने कहा- हम उपनगरीय रेल सेवाओं को फिर से शुरू करने पर विचार करेंगे अगर वे इस बारे में हमसे संपर्क करेंगे। यादव ने आगे कहा- हमें कोविड-19 के फैलने को कम करना होगा। एक बार जैसे ही राज्य सरकारें हमसे कहती है, उसके बाद हम सेवाओं को शुरू करने पर काम करेंगे।



मधुबनी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर फेंके गए आलू-प्याज,  सीएम बोले : खूब फेंको, खूब फेंको

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के चुनावी सभा के दौरान एक व्यक्ति ने आगे से आलू-प्याज फेंक दिया। जिसको सुरक्षा बलों ने मंच पर लपक लिया। जिसकी वजह से मुख्यमंत्री बाल-बाल बच गए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हरलाखी विधानसभा के गंगौर गांव स्थित नंद लाल महावीर प्लस टू उच्च विद्यालय के मैदान में जदयू उम्मीदवार सुधांशु शेखर के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। मंच पर आलू-प्याज फेंके जाने के बाद सुरक्षा बलों ने मुख्यमंत्री को चारों ओर से घेरे में ले लिया। आलू-प्याज फेंकते देख मुख्यमंत्री ने कहा कि खूब फेंको, खूब फेंको। सुरक्षा बल और आम जनता को अपील करते हुए कहा कि इस पर ध्यान मत दीजिए। सुरक्षा में लगे कर्मी को कहा कि छोड़ दीजिए। दो मिनट छोड़ दीजिए। किसी पर ध्यान मत दीजिए और भाषण जारी रखा। कहा, जो आज नौकरी देने की बात कह रहा है, वे बताएं कि 15 सालों के शासन में कितने लोगों को नौकरी दी गई।



बांका में बोले केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे, मार्च तक कोरोना वैक्सीन आने की उम्मीद

बांका : केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्‍याण राज्य मंत्री अश्वनी कुमार चौबे ने कहा कि मार्च महीने तक कोरोना वैक्सीन उपलब्ध होने की संभावना है। इसके बाद पूरे देश में निश्‍शुल्क वैक्सीन लगाए जाएंगे। श्री चौबे  बांका में एक निजी कार्यक्रम में भाग आए हुए थे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक गांव में बूथ नीति अपनाते हुए सबसे पहले कोरोना योद्धाओं, बुजुर्गों एवं पचास वर्ष के असाध्य रोगियों को वैक्सीन लगाया जाएगा । इसके लिए राज्य एवं केंद्र सरकार मिलकर एक नीति का निर्धारण करेगी ।

(साभार/सौजन्य से)



मन की बात में पीएम मोदी की अपील : त्योहार मनाएं सावधानी से

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया। मन की बात कार्यक्रम का यह 70वां संस्करण रहा। पीएम मोदी ने आज अपने संबोधन में देशवासियों को विजयादशमी की शुभकामनाएं दी। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से सावधानी से त्योहार मनाने की भी अपील की। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से Vocal for Local को बढ़ावा देने का संकल्प लेने की अपील की। इस दौरान पीएम ने लोगों से देश के वीर जवानों के लिए घर में एक दीया जलाने की भी अपील की। 



जानिए कैसे करे इंटरव्यू की तैयारी – best interview tips in hindi

जॉब चाहे प्राइवेट या सरकारी उसे पाने के लिए हर इंसान को जिस अंतिम चुनोती से निकलना पड़ता है वो है interview यानी साक्षात्कार. आज जमाना competition का है और इंटरव्यू के जरिये साक्षात्कारकर्ता (इन्टरव्यू लेने वाला) आपको हर जरुरी पैमाने पर जांचने का प्रयास करता है और इसी के जरिये यह देखा जाता है की एक इंसान किस तरह दुसरे से अलग और योग्य है. कई बार यह देखा गया है की नॉलेज होने  के बावजूद भी लोग अनजाने में interview के दौरान कई गलतियाँ कर बैठते है जिसके कारण उन्हें उस नौकरी से हाथ धोना पड़ता है. यह गलतियाँ या तो हम लापरवाही से करते है या तो जानकारी के आभाव में. आज हम इस पोस्ट में इन्टरव्यू के दौरान होने वाली कुछ गलतियों का जिक्र करेंगे और आपको बताएँगे की कैसे इसे सुधारा जा सकता है.

आपने एक कहावत तो सुनी ही होगी – First impression is last impression. हालाकिं इंटरव्यू में यह बात पूरी तरह से लागु नहीं होती फिर भी कुछ हद तक यह साक्षात्कारकर्ता पर आपका प्रभाव छोडती है. मनोविज्ञान में इसे Halo Effect कहा जाता है. कोई भी साक्षात्कारकर्ता सबसे पहले आपके कपडे पहनने के तरीके, आपकी चाल और आपके चहरे के भावो (facial expression) को देखता है जिसके जरिये वह आपकी पर्सनालिटी और confidence level को आंकता है. साथ ही एक अच्छी शुरुआत अभ्यार्थी के आत्मविश्वास के लिए भी जरुरी मानी जाती है. इसके लिए जरुरी है की आप इंटरव्यू वेन्‍यू पर समय से पहले पहुचे, नर्वस न हो और पॉजिटिव अप्प्रोच के साथ कमरे में एंट्री ले. साथ ही जितना कम हो सके उतनी कम accessories या jewelry पहने. इंटरव्यू पैनल के सामने बिलकुल न घबराये. यह सोचे की वह भी आपकी तरह ही एक इंसान है जिसके सामने कुछ देर के लिए आपको एक्टिंग करनी है. आपका डर अपने आप दूर हो जायेगा.

कई बार लोग जॉब को पाने के लिए अपने बायोडाटा को बड़ा चढ़ा कर पेश करते है. लेकिन ऐसा करने से interview के दौरान उल्टा असर भी पढ़ सकता है.  पूछताछ के दौरान अपने द्वारा दी गई जानकारी को सही साबित करने की कोशिश में आपकी विश्वसनीयता खतरे में पड़ सकती है और अच्छी नॉलेज और काबिलियत होने के बावजूद भी आप उपेक्षा का शिकार हो सकते है. इसलिए बायोडाटा में उतना ही लिखे जिसका जवाब आप सही तरीके से दे सकते है या फिर बायोडाटा में दी गई जानकारी के बारे में सभी जरुरी इनफार्मेशन को जुटा ले ताकि जरुरत पढने पर आप उसे सही सही साबित कर पाए.

(Sabhar/Saujany Se)



मीडिया की स्वतंत्रता सबसे बड़ी चिंता

नई दिल्ली : इसकी शुरुआत पहली बार 1993 में हुई थी। जिसका मकसद था दुनियाभर में स्वतंत्र पत्रकारिता का समर्थन करना और इसकी रक्षा करना। स्वतंत्र पत्रकारिता पर होने वाले हमलों से मीडिया और पत्रकारों को बचाने के लिए इसकी शुरुआत की गई थी। इस वर्ष 2018 में इसका मुख्य लक्ष्य मीडिया की आजादी को गारंटी देने के लिए स्वतंत्र न्यायपालिका की भूमिका को सुनिश्चित करना। साथ ही चुनाव के दौरान मीडिया की भूमिका और चुनाव में पारदर्शिता के साथ, कानून का राज स्थापित करना भी अहम लक्ष्य है। 

 वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम डे की शुरुआत 1993 में यूएन जनरल एसेंबली द्वारा की गई थी, इसका सुझाव युनेस्को की जनरल कॉफ्रेंस ने दिया था, जिसके बाद इसके सुझाव को लागू किया गया है। इस दिन नामीबिया में विंडहॉक में हुए सम्मेलन में इस बात पर जोर दिया गया था कि प्रेस की आजादी को मुख्य रूप से बहुवाद और जनसंचार की आजादी के तौर पर देखा जाना चाहिए। इसके बाद से हर वर्ष 3 मई को अंतर्राष्ट्रीय प्रेस स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है।

 यूनेस्को महासम्मेलन के 26वें सत्र में इससे संबंधित प्रस्ताव को स्वीकार किया गया था। गौरतलब है कि जिस तरह से पिछले कुछ समय में पत्रकारों पर निशाना साधा गया उसके बाद लगातार मीडिया की स्वतंत्रता को लेकर चिंता जाहिर की जा रही है। रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर ने 25 अप्रैल 2018 को अपनी एक रिपोर्ट जारी की जिसमे कहा गया है कि पत्रकारों पर हमले लगातार पिछले समय में बढ़े हैं। इस रिपोर्ट भारत का स्थान 138 जोकि पिछले वर्ष 136 थी। इस रिपोर्ट में पीएम मोदी की ट्रोल आर्मी पर निशाना साधते हुए कहा गया है कि पत्रकारों पर सोशल मीडिया पर हमला करते हैं और हेट स्पीच फैलाते हैं।

 
(Sabhar/Saujany Se)



  • प्रश्न- क्या इस बार बिहार विधानसभा में महागठबंधन की सरकार बनेगी ?



    0 %
    0 %
    0 %
और देखे